मसूरी शहीद स्मारक पर पुष्पचक्र अर्पित किया गया

शनिवार को, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मसूरी के शहीद स्मारक पर फूलों का माला चढ़ाकर राज्य स्वावलंबन आंदोलन के शहीदों को याद किया। इस मौके पर, सीएम धामी ने भी राज्य स्वावलंबन आंदोलन के शहीदों के परिवारों को सम्मानित किया।

उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य आंदोलनकारियों ने जिस उद्देश्य से अलग राज्य की मांग की थी, उसके अनुरूप ही सरकार निरंतर काम कर रही है। सीएम धामी ने भी मसूरी के शहीद स्थल पर शेड का निर्माण करने की घोषणा की।

सीएम धामी ने बताया कि राज्य आंदोलनकारियों के प्रमाण पत्र जारी करने के लिए और 6 महीने का अतिरिक्त समय दिया गया था। इसके लिए कई जिलों में काम किया गया है, और आगे की स्थिति का मूल्यांकन करने की व्यवस्था भी की गई है।

देहरादून जिले में, सभी 4,164 राज्य आंदोलनकारीयों को पहचान पत्र जारी किए गए हैं। उत्तराखंड परिवहन निगम की बसों में राज्य आंदोलनकारियों के लिए निःशुल्क परिवहन सेवा की व्यवस्था भी की गई है। इसके अलावा, राज्य आंदोलनकारियों के दो बच्चों को सरकारी स्कूलों और कॉलेजों में निःशुल्क शिक्षा प्रदान की जा रही है।

उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारियों के आश्रितों को पेंशन सुविधा भी प्रदान की गई है। माता को मात्र, यदि शहीद के पिता जीवित नहीं हैं, तो प्रतिमाह पेंशन की सुविधा